Jio GigaFiber: जिओ ने महज तीन साल में ही बदल कर रख दी हैं भारतीय इंटरनेट की किस्मत !

पांच सितम्बर 2016 जिओ इंफोकॉम लिमिटेड के तहत जिओ 4G की लॉन्चिंग हुई थी तब से आजतक जिओ भारतीय इंटरनेट में काफी गहराई तक कदम बढ़ा चूका हैं। जिओ में अपने बलबूते भारतीय इंटरनेट की किस्मत  ही बदल कर रख दी।

relience jio latest news
Reliemce Jio Infotech Limited

खाश बातें : Relience Jio 

Relience Jio Infotech Limited
  • महज तीन साल में ग्राहकों की संख्या 34 करोड़ के पार 
  • हर महीने जुड़ रहे 1 करोड़ ग्राहक भारत का सबसे बड़ा बीटा प्रोग्राम रहा 
  • जियो गीगाफाइबर क्रांतिकारी रही 
  • जियो फोन की लॉन्चिंग

जियो की लॉन्चिंग 4जी नेटवर्क के साथ हुई थी और उस समय देश में एयरटेल, एयरसेल, आइडिया और वोडाफोन किसी भी टेलीकॉम कंपनी के पास 4जी नेटवर्क नहीं था।

जियो ने LYF ब्रांड के साथ साझेदारी की और इसी फोन के साथ ग्राहकों को अपना 4जी सिम बेचा। अब महज तीन साल में जियो के पास 34 करोड़ ग्राहक हो गए हैं।


Jio का हैं दावा ? | Jio GigaFiber

रिलायंस जियो के दावे के मुताबिक हर महीने एक करोड़ से अधिक ग्राहक जियो के साथ जुड़ रहे हैं। अब जियो ने अपनी ब्रॉडबैंड सेवा जियो गीगाफाइबर के रूप में की है। वहीं रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी ने वार्षिक बैठक में बताया कि जियो भारत की सबसे बड़ी और दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी टेलीकॉम ऑपरेटर है।

हर रोज नए-नए प्लान पेश किए गए। हालात यहां तक पहुंच गई कि एयरसेल, टाटा डोकोमो जैसी कंपनियां बंद हो गई और वोडाफोन और आइडिया जैसी कंपनियों को साझेदारी करनी पड़ी।

यहां ध्यान देने वाली बात यह है कि 21 फरवरी, 2017 को कंपनी ने प्राइम मेंबरशिप (पेड सर्विस) के एलान के बाद डर था कि जियो के ग्राहक कम होंगे लेकिन हुआ इसका उल्टा। पेड सर्विस होने के बाद जियो के ग्राहक घटने की बजाय बढ़े जो कि दुनिया का सबसे बड़ा फ्री से पेड में ट्रांसफॉर्मेशन था।

At Last : इसी तरह टेक्नोलॉजी और इंटरनेट की सभी खबरें पाने की लिए हमें अपने ईमेल आईडी से सब्सक्राइब करें और हर नै पोस्ट की जानकारी सीधे अपने फ़ोन पर पाएं।